अब मोबाइल बना स्मार्ट मैनेजर

छुट्टियों में घूमने-फिरने जाने वाले 100 लोगों से बात करिये तो करीब 90 लोगों का अनुभव यही होगा कि उनकी आधी से ज्यादा छुट्टी घूमने-फिरने की व्यवस्था करने में ही गुजर गयी। जी, हॉं! एक सर्वेक्षण के दौरान यह हकीकत उभर कर सामने आयी है कि सैर-सपाटे के लिए ली गई छुट्टियों में से आधी छुट्टियां जानकारी इकट्ठा करने और बुकिंग में खत्म हो जाती हैं। ऐसे में न सिर्फ मौज-मस्ती के लिए समय कम रह जाता है, बल्कि इन सारे तामझाम में लोग इतने थक जाते हैं कि घूमने का मजा भी किरकिरा हो जाता है। लेकिन अब आपको अपनी छुट्टियां न तो कम करने की जरूरत है और न ही थकान के कारण मजा किरकिरा करने की, क्योंकि अब आपकी इन सभी परेशानियों का हल आपके मोबाइल के पास है। बस आपको इसकी इन सेवाओं को सही तरीके से उपयोग करना आना चाहिए। अब अपनी मोबाइल की सेवाओं का सही इस्तेमाल करके आप भी अपनी छुट्टियों का सही मायनों में लुत्फ ले सकेंगे।

मान लो, छुट्टियां बिल्कुल करीब हैं या शुरू हो चुकी हैं। लेकिन आप यह नहीं जानते अथवा तय नहीं कर पा रहे कि क्या करना है। अगर आपको मालूम नहीं कि कहां जाएं? तो आपको न ही टेंशन लेने की जरूरत है और न ही अपने प्लान कैंसिल करने की। अब मोबाइल पर ऐसी कई सेवाएं उपलब्ध हैं, जिनके जरिए आप अपने टूर से जुड़े सभी सवालों के जवाब पा सकते हैं और अपनी परेशानियों से निजात भी पा सकते हैं। जहां पहले टिकट बुकिंग, होटल बुकिंग, टैक्सी बुकिंग और बाकी के ताम-झाम के बखेड़ों में उलझे रहते थे और उसमें भी ये शक कि इंफॉर्मेशन सही है या नहीं। वहीं अब आपके मोबाइल में सभी इंफॉर्मेशंस मौजूद हैं। एसएमएस और जीपीआरएस के जरिए आप चाहें तो कहीं से भी इन कार्यों को अंजाम दे सकते हैं।

मौसम के अनुसार जगह का चुनाव करते वक्त वातावरण और स्थान से जुड़ी विशेषताओं के बारे में जानने के लिए अब आपको किसी को फोन करने की या फिर किताबों की खाक छानने की जरूरत नहीं है, क्योंकि अब अपने मोबाइल से सिर्फ एक-एक एसएमएस कीजिए और आपके लिए पेशे खिदमत है आपकी इन सारी समस्याओं का हल अपने मोबाइल में ऊन्न्र्ंिथ्‌नण्घ्ऊभ् लिखे और 5676 पर एसएमएस करें। पलक झपकते ही डेस्टीनेशन के वातावरण और विशेषताओं के बारे में सारी जानकारी आपके मोबाइल पर हाजिर होगी। चाहे तापमान हो या वर्षा या फिर आपकी डेस्टीनेशन की तमाम दूसरी जरूरी जानकारियां इन सभी के बारे में आप मोबाइल के साथ-साथ वेबसाइट की मदद भी ले सकते हैं।

टिकट काउंटर की लंबी लाइन और इंटरनेट जैसी तकनीक के साथ माथा-पच्ची अब भूल जाइए और मात्र एक एसएमएस की मदद से टिकट बुकिंग, सीट उपलब्धता और आरक्षण जैसी समस्याओं से आसानी से निपटा जा सकता है। रेल, फ्लाइट, बस या कार परिवहन का कोई भी जरिया हो, सभी की सुविधाएं आपके मोबाइल पर उपलब्ध हैं। मनपसंद फ्लाइट टिकट बुकिंग के लिए 5667711 पर मैसेज करें और भुगतान के लिए आपका ोडिट कार्ड काफी है। ऐसी ही कुछ सुविधाएं अब आपके हैंडसेट पर भी बहुत जल्द उपलब्ध कराई जाएंगी। कार इंक्वायरी के लिए अब आपको सिर्फ ण् लिखकर 5667711 पर एसएमएस करना है। इतना करने से आपको इससे संबंधित सभी जानकारियां आसानी से मिल जाएंगी। इन कार्यों में अब पेमेट, किंगफिशर, एसीएल, ऑक्सीजन, वेब गाइड, ऐनीटाइम रीचार्ज, यात्रा डॉट कॉम और मेकमाईटिप ऐनीमोबाइल सर्विस शामिल है।

टूर पर ज्यादा कैश लेकर जाने से सभी डरते हैं। अंजाने शहर में सुरक्षा के मद्देनजर ज्यादा कैश को ले जाना अनसेफ रहता है। मतलब यह कि अब आपकी इस समस्या का हल भी मोबाइल ही है। लेकिन अब बिल पेमेंट और मोबाइल के बैलेंस को लेकर आप बेफिा हो जाएं, क्योंकि ऑक्सीजन की एम वैलेट सेवा आपको परेशानी से दूर कर देगी। ऑक्सीजन ने “ऑक्सीकैश’ नाम का एम वैलेट प्रीपेड कार्ड लांच किया है, जिसके जरिए आप न केवल जानकारी ले सकेंगे, बल्कि इस कार्ड का उपयोग आप उन सभी सेवाओं के भुगतान के लिए कर सकते हैं जिसे ऑक्सीजन ने मुहैया कराया है। मोबाइल पर एसएमएस और जीपीआरएस के अलावा मोबाइल वेबसाइट की भी सुविधा उपलब्ध है। इंटरनेट फ्रैंडली लोगों के लिए अब वेब पोर्टल के माध्यम से टिकट बुकिंग, होटल बुकिंग जैसी सेवाएं भी उपलब्ध हैं।

डेस्टीनेशन के चुनाव और अन्य सभी तरह की बुकिंग के साथ-साथ एक और महत्वपूर्ण बात आपके टूर के लिए जरूरी है और वह है “रूट’। कौन-सा रूट आपके लिए सबसे अधिक सुविधाजनक रहेगा? इस काम में भी आपकी मदद आपका मोबाइल ही करेगा। अगर आप सड़क के माध्यम से यात्रा करना चाहते हैं तो “ओके, टाटा, बाय-बाय’ नाम का टैवल पोर्टल आपकी सेवा में हाजिर है, इसके लिए आपको अपना मोबाइल नंबर और लोकेशन की पूरी जानकारी वेबसाइट पर रजिस्टर करनी होगी। गेट इन ऑल डॉट इस सेवा के जरिए यह आपको अपनी डेस्टीनेशन के होटल्स, रेस्तरां, हॉस्पीटल और अन्य सभी महत्वपूर्ण लोकेशंस की जानकारी आपके लिए मुहैया कराता है। इसके लिए आप 5676725 पर एसएमएस कर अपनी जरूरत के मुताबिक सूचनाएं प्राप्त कर सकते हैं। मोबाइल पर मैप उपलब्ध कराने वाली मैप माई इंडिया के “मैप माई इंडिया आई-नेव’ एप्लीकेशन आपको हर पल की जानकारी देता है। यह एप्लीकेशन राज्य मार्ग के अलावा 55 हजार शहरों और गांवों की जानकारी भी उपलब्ध कराता है। इस एप्लीकेशन को आप स्ज्स्ब्.ुाूैर्ंि.म्दस् से डाउनलोड कर सकते हैं।

कहीं भी घूमने जाते समय सबसे महत्वपूर्ण बात जो सबसे पहले जेहन में आती है, वो है-सुरक्षा। अपनी, अपने सामान की और अपने मोबाइल की सुरक्षा को लेकर अब आपको चिंता करने की जरूरत नहीं है, क्योंकि आपकी सुरक्षा और सेवा को लेकर तमाम मोबाइल कंपनी हाजिर हैं जिसके तहत आप “एसओएस’ मैसेज सेवा के जरिए आपात स्थिति में अपने जानकारों को बता सकते हैं, वह भी बिना नेटवर्क और नो बैलेंस की स्थिति में भी। मोबाइल की सुरक्षा के लिए “मोबाइल टैकिंग’ की सुविधा है, जो आपका मोबाइल खोने या चोरी होने की स्थिति में आपकी मदद करेगा।

मोबाइल, वेबसाइट्स, इंटरनेट के बाद अब आपके हैंडसेट पर भी ऐसी सुविधाएं आ गई हैं। अब आप घर बैठे-बैठे अपना पूरा टिप बिना किसी किचकिच या भागदौड़ के आसानी से प्लान कर सकते हैं। अब मोबाइल पर एसएमएस, जीपीआरएस और मोबाइल वेब सर्विसेज के जरिए आप अपने टिप को सुखद और सुरक्षित भी बना सकते हैं।

– मोहम्मद अयान

One Response to "अब मोबाइल बना स्मार्ट मैनेजर"

  1. kailash jat   January 1, 2016 at 9:12 am

    Very good

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.