खूबसूरती का रा़ज क्या है?

women-beauty-secretसेलिब्रिटीज का सौंदर्य हर किसी के लिए आकर्षण का केंद्र होता है। हर कोई मशहूर सेलिब्रिटीज की ही तरह खूबसूरत और आकर्षक बनना चाहता है, मगर ज्यादातर लोगों को यह नहीं पता होता कि आजकल वह क्या करते हैं, जो इस कदर खूबसूरत बने रहते हैं। यहां हम कुछ मशहूर सेलिब्रिटीज की खूबसूरती का वह रा़ज पर्दाफाश कर रहे हैं, जो उन्हें लाखों के बीच सबसे अलग और खास बनाता है। शायद यह रा़ज जानकर आप भी कुछ खास बन सकें।

शबाना आ़जमी- मेरी त्वचा बेहद रूखी है जिसकी वजह से मुझे जो भी मिल जाये, उससे बार-बार अपने चेहरे को मॉस्चराइज करती हूं। मुझे यदि घी मिल जाये, तो मैं अपने चेहरे पर लगा लेती हूं। कभी-कभी कोल्ड ाीम से भी चेहरे को मॉस्चराइज करती हूं। लॉ पैरी, शहनाज, डीएलसीसी, लैनकॉम जिस कम्पनी का जो भी मॉस्चराइजर मिलता है, मैं उससे अपने चेहरे को मॉस्चराइज करती हूँ। मैं ज्यादा मेकअप करना पसंद नहीं करती। रात के समय जब ज्यादा थकी होती हूं तो चेहरे को धोये बिना ही सो जाती हूं। हालांकि यह बेहद खराब बात है। मैं किसी को ऐसा करने की सलाह नहीं देती। जो लोग चेहरे पर सौंन्दर्य प्रसाधन लगाते हैं, उन्हें रात के समय मेकअप को हटा लेना चाहिए। मेरी फ्रैंड्स मुझसे कहती हैं कि मुझे जो भी रोल करना हो, मेरे शरीर का वजन सबके लिए अनुकूल होता है। ऐसा इसलिए है, क्योंकि मैं खाने-पीने में ज्यादा परहेज नहीं करती। हां, मैं अपने भोजन में कार्बोहाइडेट कम लेती हूं। यदि किसी रोल की मांग के अनुसार मुझे अपना वजन बढ़ाना हो तो मैं खाने को लेकर ज्यादा कॉन्शस नहीं रहती हूं। मैं कुछ भी खाकर अपना वजन बढ़ा लेती हूं।

श्रीदेवी- मेरा मानना है कि यदि आप भीतर से स्वस्थ हैं तो इसकी चमक चेहरे और बालों दोनों में दिखाई देती है। यदि आप अपने भोजन में तले-भुने खाद्य-पदार्थ लें और जंकफूड खायें तो भले ही आप कितना भी फेशियल करा लें, आपके चेहरे पर कोई चमक नहीं रहती। जहां तक संभव होता है मैं ऑरगेनिक फूड खाना पसंद करती हूं। मेरी दोनों बेटियां भी ब्राउन राईस खाती हैंै। वे अपनी इच्छा से वह सब खाती हैं, जो मैं खाती हूं। दोनों इतनी कम उम्र में अपने स्वास्थ्य को लेकर बेहद सजग रहती हैं। मुझे मछली खाना पसंद है। मैं कभी-कभार चिकेन भी खाती हूं। जब मैं घर पर होती हूं तो शाकाहारी भोजन लेती हूं। नियमित एक्सरसाइज करती हूं। प्रतिदिन जिम जाती हूं। मुझे घर से बाहर काफी वक्त बिताना पड़ता है, जिसके कारण मेरे लिए इस रूटीन को अपनाना काफी मुश्किल होता है। इसके बावजूद मैं योगा सेशन लेती हूं। किसी भी व्यक्ति की सुंदरता का रा़ज उसके सकारात्मक होने में छिपा है। हमें अपना सम्मान करना चाहिए। यह बात हर किसी के चहेरे पर दिखाई देनी चाहिए। मेरे बच्चे और मेरे पति चाहते हैं कि मैं हर समय सुन्दर दिखूं। वे मेरे लिए मेरी प्रेरणा हैं।

हेमा मालिनी- मेरी दोनों बेटियां मेरे सौंदर्य के प्रति काफी सजग हैं। वे हमेशा मुझसे अपना ध्यान रखने के लिए कहती हैं। वे दोनों चाहती हैं कि मैं जीन्स और शर्ट पहनूं। मैंने उनकी सलाह पर ऐसा करना शुरू किया है। मेरा मानना है कि अपने आपको हमेशा सुन्दर बनाकर रखना चाहिए। आप हर समय दूसरों के लिए जियें, ऐसा नहीं हो सकता। अपने आप से प्यार करना सबसे ज्यादा जरूरी होता है, नहीं तो आप दूसरों को प्यार नहीं दे सकते। भगवान ने आपको एक शरीर दिया है, यह आपका दायित्व है कि आप उसकी अच्छी तरह से देखभाल करें। कोई भी व्यक्ति प्रतिदिन यदि अपने लिए दो घंटे का समय निकाले, योगाभ्यास करे, मेडिटेशन करे, उसके बाद पूजा करे, चाय पीये और अपनी दिनचर्या शुरू कर दे तो वह हमेशा सुन्दर और जवान बना रह सकता है। मैं शाकाहारी हूं। मुझे जो इच्छा होती है, वही खाती हूं। दोपहर में लंच में दो रोटी, सब्जी, दाल और चावल खाती हूं। रात के समय चावल नहीं खाती।

काजोल- एक बढ़िया अदाकारा, मां और अपनी घर की बखूबी देखभाल करने वाली काजोल की हरी आंखें उसकी सुंदरता का सबसे बड़ा रा़ज हैं। वह देखने में चाहे बहुत सुंदर न हो, लेकिन उसके व्यक्तित्व में एक जबर्दस्त आकर्षण है। वह कहती है-अपने आपको खूबसूरत बनाने के लिए वह प्रतिदिन वर्कआउट जरूर करती हूं। मैं शराब को कभी हाथ नहीं लगाती।

तब्बू-मेरा मानना है कि नियमित एक्सरसाइज एक ऐसी थेरेपी है, इससे आपका शरीर और दिमाग दोनों स्वस्थ रहते हैं। आप हमेशा सुंदर लगते हैं। हालांकि मैं नियमित एक्सरसाइज नहीं कर पाती मगर मैं योगाभ्यास करती हूं। मैं सब आसनों को तो कर नहीं पाती हूँ, लेकिन कई जरूरी आसन कर लेती हूं। खाने के मामले में मैं ज्यादा नखरे नहीं करती। मुझे घर का बना खाना ही अच्छा लगता है। मुझे मछली खाना बेहद पसन्द है। मैं ज्यादातर घर पर ही खाना पसंद करती हूं, क्योंकि इससे शरीर स्वस्थ रहता है। कभी-कभी थाई और इटालियन व्यंजन खाती हूं। अपनी त्वचा की सुंदरता पर ज्यादा ध्यान देती हूं। उसकी साफ सफाई को लेकर सजग रहती हूं। रात में बिस्तर पर जाने से पहले अपने चेहरे का मेकअप अच्छी तरह से साफ करती हूं। कभी-कभी सिर की मसाज के लिए स्पा जाती हूं। इससे मुझे काफी रिलैक्स मिलता है। इससे बालों का सौंदर्य भी बढ़ता है। आजकल न जाने कितने तरह के सौंदर्य-प्रसाधन बाजार में मिलते हैं, मैं दूसरों की सलाह के अनुसार भी विभिन्न कंपनियों के सौंदर्य-प्रसाधन इस्तेमाल करना पसंद करती हूं।

मल्लिका साराभाई-जब मैं छोटी थी तो बहुत मोटी थी। मुझे आलू, चावल, मक्खन और चीनी खिला-खिलाकर मोटा किया गया था। जब मैं तेरह साल की हुई, तो मेरी मां को मेरा मोटापा थोड़ा अखरने लगा। इसके बाद मैंने जमकर डाइटिंग की और अपने शरीर को काफी कष्ट दिया। कभी-कभी तो मैंने पूरा दिन सिर्फ एक संतरा खाकर गुजारा। पांच-सात साल पहले तक मैं रोज अपना वजन तौलती थी। यदि मेरा वजन 200 ग्राम भी बढ़ जाता था तो मुझे इसके लिए काफी अफसोस होता था। मैंने अब अपने शरीर की भाषा को समझना शुरू किया है। यदि मीठा खाने की इच्छा होती है तो मुझे ऐसा लगता है कि शायद मेरे शरीर को इसकी जरूरत है। अब मैं खाने को लेकर ज्यादा परहेज नहीं करती। यदि मेरा वजन 1 किलो भी बढ़ जाता है तो मैं तीन दिनों में उसे कम कर लेती हूं।

डांस मेरे पास सबसे बढ़िया माध्यम है, जिससे मैं अपने आपको फिट रखती हूं। जिन दिनों मैं घर से बाहर होती हूं तो अपने होटल के कमरे में सूर्य नमस्कार करती हूं। अपनी त्वचा को सुंदर बनाये रखने के लिए हमेशा प्राकृतिक चीजों का इस्तेमाल करती हूं। एलोयबेरा सीधे पौधे से ही लेती हूं। मैं अपने शरीर पर नारियल का तेल लगाती हूं। मुझे अपनी रसोई घर में जो मिल जाता है मसलन-पपीता, केला, टमाटर आदि का इस्तेमाल अपने चेहरे की त्वचा को निखारने के लिए करती हूं। मैं अपने चेहरे पर कभी साबुन नहीं लगाती। मुंह पर संतरे का छिलका, आंवला और नमक सुखाकर अपनी त्वचा पर लगाती हूं, इससे त्वचा की साफ- सफाई बढ़िया ढंग से हो जाती है।

– नीलोफर

Leave a Reply

Your email address will not be published.