नकली शक्ति का प्रदर्शन न करें

भारत का गणतंत्र दिवस 26 जनवरी नजदीक आ रहा है। यह प्रथा रही है कि इस अवसर पर किसी विशिष्ट मेहमान अर्थात् सरकारी मेहमान के रूप में आमंत्रित किसी राष्टाध्यक्ष के समक्ष हमारी तीनों सेनाओं की टुकड़ियां दिल्ली में राजपथ पर अपने रक्षा कौशल और रक्षा तैयारियों का प्रदर्शन करती है, लेकिन इस बार पूरे विश्र्व ने भारत की रक्षा तैयारियों की, दस आतंकवादियों के हाथों धज्जियां उड़ते पहले ही देख ली हैं। मुम्बई पर आतंकी हमलों के तमाम साक्ष्य पाकिस्तान के खिलाफ होने के बावजूद भारत उसके खिलाफ तत्काल जवाबी कार्रवाई करने का साहस भी नहीं जुटा पाया। इन हालात में यह बेहतर रहेगा कि इस बार 26 जनवरी के गणतंत्र-दिवस समारोह में हम नकली शक्ति प्रदर्शन कर अपनी जगहंसाई करवाने से परहेज ही करें।

 

– आलोक अग्रवाल (हैदराबाद)

Leave a Reply

Your email address will not be published.