पहला विश्व मेला कब लगा?

दोस्तों, दिल्ली में हर साल विश्र्व व्यापार मेला लगता है, अन्य मेले भी लगते हैं। सवाल ये है कि संसार का सबसे पहला मेला कब लगा होगा?

जिन्हें हम विश्र्व मेला कहते हैं वह वास्तव में प्रदर्शनी है। मेला तो बहुत प्राचीन चीज है, जिसके बारे में बताना कठिन है कि वह सबसे पहले कब आयोजित किया गया। मेला चीजों को बेचने और व्यापार करने की मशहूर व प्राचीन परम्परा है। लेकिन दूसरी ओर प्रदर्शनी का बिलकुल भिन्न उद्देश्य है। इनमें औद्योगिक और आर्टिस्टिक विकास को प्रदर्शित किया जाता है, जिसका संबंध किसी खास देश या खास अवधि से होता है।

पहली प्रदर्शनी या विश्र्व मेला “द ग्रेट एग्जीबिशन ऑफ द वर्क्स ऑफ इंडस्टीज ऑफ ऑल नेशन्स’ था। यह लंदन के हाइड पार्क में सन् 1851 में आयोजित किया गया। यह प्रदर्शनी िास्टल पैलेस नामक एक बिल्ंिडग में लगी थी जोकि पूर्णतः लोहे और ग्लास से बनाई गई थी।

यह बड़े ग्रीन हाउस जैसी बिल्ंिडग आज मौजूद नहीं है। सन् 1936 में यह आग से नष्ट हो गई। वैसे अमेरिका में पहली अंतर्राष्टीय प्रदर्शनी 1853 में न्यूयार्क में लगी थी। 23 देशों के लगभग पांच हजार लोगों ने इसमें हिस्सा लिया लेकिन यह फिर भी नाकाम रही। अमेरिका में पहली सफल प्रदर्शनी “सेन्टीनियल’ थी, जो अमेरिका की आजादी के सौ वर्ष पूरे होने पर 1876 में फिल्डेलिआ, पेनसिलवेनिया में आयोजित की गई थी। अलेक़्जेंडर, ग्राहम बेल ने अपने टेलीफोन का पहली बार प्रदर्शन सेन्टीनियल में ही किया था। अन्य प्रमुख प्रदर्शनियां 1951 की फेस्टिवल ऑफ ब्रिटेन और कनाडा का एक्पो 67 थीं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.