भला ही आया हो गुराँ, साँचा ही आया हो भजन

भला ही आया हो गुराँ, साँचा ही आया हो।
म्हारा भाग पुरबला जाग्या गुराँ, साँचा ही आया हो॥
म्हारा भाग आगला जाग्या गुरांँ, साँचा ही आया हो॥ टेर ॥
सत गुरु आँगन आया, मोतीयाँ रा थाल पुराया।
सब सखियाँ मंगल गावे हो भला ही आया हो॥ 1 ॥
गुरु देवायत जी आया, जाने तोला दे मनाया।
ज्यानें हिरदाँ ध्यान लगायो हो भला ही आया हो॥ 2 ॥
गुरु उगमजी आया, ज्यानें रूपादे बधाया।
थाली में बागा लगाया हो भला ही आया हो॥ 3 ॥
गुरु रविदास जी आया, ज्यानें मीरा बाई बधाया।
ज्यानें अमृत प्याला, पाया हो, भला ही आया हो॥ 4 ॥
गुरु रामान्दजी आया, ज्यानें कबीर सा बधाया।
कबीर बधावो गाया हो, भला ही आया हो॥ 5 ॥

Leave a Reply

Your email address will not be published.