भगवान में गहरी आस्था है

इधर, छोटे पर्दे पर तमाम धार्मिक धारावाहिकों का युग आ रहा है। एक ओर जहॉं एनडीटीवी पर रामायण का प्रसारण शुरू हुआ है, तो नाइन एक्स पर “जय मॉं वैष्णो देवी’, उधर सहारा वन भी माता वैष्णो देवी पर केंद्रित “माता की चौकी’ लेकर आ रहा है। नाइन एक्स पर धीरज कुमार “जय मॉं वैष्णो देवी’ लेकर आए हैं। धीरज कुमार पौराणिक धारावाहिकों के विशेषज्ञ माने जाते हैं। इससे पूर्व वे “ओम नमः शिवाय’, जय मॉं संतोषी व “मन में है विश्र्वास’ जैसे चर्चित धारावाहिक बना चुके हैं। नाइन एक्स पर सोमवार से बृहस्पतिवार रात 8 बजे प्रसारित हो रहे इस धारावाहिक में मॉं वैष्णो देवी की भूमिका रूपा दत्ता निभा रही हैं।

रूपा दत्ता स्वीकारती हैं कि वे इस किरदार को निभाने में गर्व महसूस करती हैं। उनका कहना है कि वे भगवान में गहरे तक विश्र्वास करती हैं। मूल रूप से कोलकाता की रहने वाली रूपा दत्ता इससे पहले कई बंगाली फिल्मों-धारावाहिकों तथा विज्ञापनों में अपनी प्रतिभा का परिचय दे चुकी हैं। उनका कहना है कि हम सब ईश्र्वर के हाथ के खिलौने हैं। वे बताती हैं- मेरी माता में गहरी आस्था है और मैं एक बार कटरा में वैष्णो देवी के दर्शन भी कर चुकी हूँ।

िायेटिव आई द्वारा निर्मित धारावाहिक के बारे में रूपा दत्ता बताती हैं कि पौराणिक धारावाहिकों के मास्टर धीरज कुमार ने धारावाहिक में सृष्टि की रचना व पौराणिक गाथाओं का ऐसा प्रमाणिक विवरण दिया है कि इससे मेरे ज्ञान में भी वृद्घि हुई है।

इससे पूर्व कोई धार्मिक धारावाहिक व फिल्म उन्होंने नहीं की है, लेकिन भविष्य में प्रस्ताव आया तो विचार करेंगी। एक अन्य चैनल पर वैष्णो देवी धारावाहिक शुरू होने पर उनकी प्रतििाया थी कि एक तो धीरज कुमार की निर्माता दृष्टि बहुत व्यापक है, दूसरे शुरुआत हमने की है। वे नाइन एक्स पर एकता कपूर के “महाभारत’ से इस कार्याम पर किसी तरह का प्रभाव नहीं पड़ने की बात करती हैं।

इस रोल के लिये स्वयं को तैयार कैसे किया? पूछने पर रूपा कहती हैं कि सेट पर डायरेक्टर व निर्माता की तरफ से मिलने वाला फीड बैक काम आया। उनका मानना है कि उनका पूरा ध्यान मॉं वैष्णो देवी पर है, अतः अभी वे अन्य कोई धारावाहिक नहीं कर रही हैं। वे जब माता के मेकअप में होती हैं तो करीब दस किलो का मुकट जेवर आदि पहन कर चलती हैं। रूपा बताती हैं कि वह पूर्णतः शाकाहारी हैं।

 

– रूपा दत्ता

Leave a Reply

Your email address will not be published.